दही खाने के फायदे और नुकसान

सुबह खाली पेट दही खाने से क्या होता है?

दही और चीनी खाने से हमारे शरीर को तुरंत ग्लूकोज मिलता है इसलिए जब आप घर से बाहर निकलते हैं तो दही-शक्कर चली जाती है जिससे आप दिन भर ग्लूकोज के साथ एक्टिव रहते हैं। दही चीनी से ग्लूकोज आपके दिमाग और शरीर को ऊर्जा से भर देता है। इसलिए अगर आप सुबह मीठा दही खाते हैं तो आप पूरे दिन ऊर्जावान बने रहेंगे। इसका दही दूध से भी जल्दी पच जाता है। दही में मौजूद प्रोटीन आसानी से पच जाता है। अगर आप नाश्ते में दही या दही से बना कोई उत्पाद खाते हैं तो यह दूध की तुलना में आसानी से पच जाता है। साथ ही दही आपके पेट को भी हल्का रखता है। जिन लोगों को पाचन संबंधी समस्याएं होती हैं उनके लिए सुबह दही या छाछ पीना फायदेमंद माना जाता है।

किस समय दही नहीं खाना चाहिए?

आयुर्वेद के अनुसार रात के समय दही का सेवन नहीं करना चाहिए क्योंकि इसका असर ठंडा होता है। जिससे यह खतरनाक साबित हो सकता है। दोपहर 3 बजे से पहले करना चाहिए। रात में दही खाने से बलगम बन सकता है। आयुर्वेद के अनुसार रात में खाने से संक्रमण, बलगम की समस्या, मोटापा, त्वचा संबंधी समस्याएं हो सकती हैं। दही को पचाने के लिए शरीर को ऊर्जा की जरूरत होती है। अक्सर लोग रात को खाना खाकर सीधे बिस्तर पर चले जाते हैं, जिससे पाचन तंत्र कमजोर हो जाता है। दही में पित्त और कफ को बढ़ाने के गुण होते हैं, इसलिए बसंत और सर्दी के मौसम में इसे खाने से बचना चाहिए।

एक दिन में कितना दही खाना अच्छा है?

बहुत से लोग सोचते हैं कि दही खाना सेहत के लिए अच्छा माना जाता है, इसलिए वे इसे दिन में कई बार करते हैं। लेकिन आपको बता दें कि एक दिन में लगभग 200 से 300 ग्राम ही सेवन करना चाहिए।

किस रोग में दही नहीं खाना चाहिए ?

जिन लोगों को अर्थराइटिस की समस्या है, उन्हें इन्हें खाने से बचना चाहिए। जिन लोगों को डायबिटीज है उन्हें इसका सेवन कम करना चाहिए क्योंकि फैट फ्री दही में शुगर की मात्रा अधिक होती है। अगर आपको अस्थमा की समस्या है तो बेहतर होगा कि आप इसका सेवन न करें। अगर आप सर्दी के मौसम में दही का सेवन करते हैं तो आपको टॉन्सिल की समस्या हो सकती है। इसके साथ ही मांसपेशियों में सूजन भी हो सकती है।

किन चीजों के साथ दही खाना है खतरनाक?

दही को सेहत के लिए अच्छा माना जाता है, लेकिन कुछ चीजों के साथ इसका सेवन करना आपकी सेहत के लिए खतरनाक साबित हो सकता है। आयुर्वेद के अनुसार खीर, दूध, पनीर, गर्म भोजन, खीरा, खरबूजा, ताड़ के फल, प्याज आदि के साथ दही नहीं खाना चाहिए।

दही के इस्तेमाल से चेहरे पर क्या असर होता है?

तैलीय से रूखी त्वचा के लिए दही बहुत फायदेमंद होता है। दही में लैक्टिक एसिड होता है जो चेहरे से पिंपल्स को दूर करता है। दही में क्रीम मिलाया जाता है, जो त्वचा को मॉइश्चराइज भी करता है। आप दही का इस्तेमाल क्लींजर के तौर पर भी कर सकते हैं। ऐसा करने से यह तो चला जाएगा, लेकिन गंदगी, पसीने और धूल की परत साफ हो जाएगी।

दही खाना कब जहर बन जाता है?

दही जब आप कुछ चीजों के साथ खाते हैं तो जहर का काम करता है जैसे: आम को दही के साथ नहीं खाना चाहिए। अगर आप इन दोनों को एक साथ खाएंगे तो आपके शरीर में टॉक्सिन्स बनेंगे क्योंकि ये दोनों एक दूसरे से उल्टी करते हैं। दही ठंडा माना जाता है जबकि आम गर्म होता है। इसके अलावा केले के साथ दही का सेवन भी वर्जित है। अगर आप केले के साथ दही खाते हैं, तो इसका आपके शरीर पर विपरीत प्रभाव पड़ता है। अगर खाना है तो 2 घंटे बाद खाना चाहिए। इसके अलावा आयुर्वेद के अनुसार उड़द की दाल के साथ दही खाने से यह जहर के समान हो जाता है। भूलकर भी साथ में नहीं खाना चाहिए।

किस महीने में दही का सेवन नहीं करना चाहिए?

भाद्रपद मास हिंदू कैलेंडर के अनुसार छठा महीना है। इस महीने में कुछ चीजों से परहेज करना चाहिए। दही उनमें से एक है जिसका सेवन स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है।

बालों में दही लगाने से क्या होता है?

दही बालों को पोषण प्रदान करता है, और रूखे बालों के लिए दही सबसे अच्छा विकल्प है, इसलिए बालों को दही से कंडीशन करना उनकी बेहतर देखभाल का एक बड़ा हिस्सा है। इसके लिए बालों को शैंपू करने के बाद दही को कंडीशनर की तरह इस्तेमाल करें। नहाने के बाद दही को बालों में 15 मिनट के लिए छोड़ दें और फिर धो लें।

अन्य भी पढ़े :

खून की कमी क्यों होती है | सबसे ज्यादा खून कैसे बनता है

शहद के फायदे | शहद के प्रकार | कच्चे शहद के फायदे

पेट की चर्बी तुरंत कम करने के लिए कौन सा जूस पिएं?

Milk Benefit For Health | Cow Milk l Buffalo Milk | Milk For Weight Loss

क्या सर्दी जुकाम में दही खा सकते हैं?

विशेषज्ञों के अनुसार सर्दी से लड़ने के लिए हम पूरी तरह से दही पर निर्भर नहीं रह सकते हैं, लेकिन अगर स्वस्थ आहार के साथ दही का सेवन किया जाए तो यह शरीर के लिए फायदेमंद साबित हो सकता है। दही चिकना होता है और गले के नीचे जाकर आसानी से पच जाता है। इसके अलावा बुखार में दही, शिकंजी गाजर, मूली जैसी ठंडी चीजों से परहेज करना चाहिए।

क्या दही खाने से वजन कम होता है?

दही कम केकड़ा और उच्च प्रोटीन वाला भोजन है, इसलिए यह वजन घटाने वाले खाद्य पदार्थों में से एक है। दही में मौजूद प्रोटीन दुबला मांसपेशियों के निर्माण और पेट की चर्बी को कम करने में मदद करता है। इस लिहाज से दही वजन घटाने में मदद करता है

दही में शहद मिलाकर खाने से क्या होता है?

दही में शहद मिलाकर खाने से दही पूरी तरह से एंटीबायोटिक का काम करता है। साथ ही ऐसा दही खाने से मुंह के छालों से भी राहत मिलती है। अगर आप मोटापे से परेशान हैं तो डॉक्टर्स के मुताबिक दही में काली मिर्च खाने से काफी हद तक आराम मिलता है। ऐसा करने से आपके शरीर की अतिरिक्त चर्बी कम हो जाती है।

 

Sharing:
Milk Benefit For Health Cow Milk l Buffalo Milk Milk For Weight Loss

Milk Benefit For Health | Cow Milk l Buffalo Milk | Milk For Weight Loss

दूध पीने से हड्डियों और मांसपेशियों पर क्या असर होता है? Table of Contents दूध पीने से हड्डियों और मांसपेशियों पर क्या असर होता है?दूध पीने से वजन तेज़ी से…

Raw Honey Benefits

शहद के फायदे | शहद के प्रकार | कच्चे शहद के फायदे

वजन कम करने में शहद अहम भूमिका निभाता है। सुबह खाली पेट नींबू पानी में शहद मिलाकर सेवन करें, इससे वजन कम होगा। यह मेटाबॉलिज्म को बढ़ाता है, जिससे शरीर…

bread For Weight Loss

Bajra Roti For Weight Loss | Butter Roti

एक दिन में कितनी रोटी खाना सही है? अगर आप अपना वजन कम करना चाहते हैं तो यह जानना जरूरी हो जाता है कि इसके लिए कितनी रोटी खानी है।…

Leave a Comment